Home Blog

मलेशिया सरकार ने सऊदी समर्थित केन्द्र को बंद करने का आदेश दिया

0

मलेशिया की नई सरकार ने देश में आतंकवाद के ख़िलाफ़ सऊदी समर्थित केन्द्र को बंद करने का आदेश दिया है। यह केन्द्र लगभग 13 महीना पहले कुआलालंपूर में क़ायम हुआ था।

अलजज़ीरा टीवी चैनल के अनुसार, मलेशिया के रक्षा मंत्री मोहम्मद साबू ने सांसदों से कहा कि किंग सलमान सेंटर फ़ॉर पीस (केएससीआईपी) तुरंत बंद कर रहे हैं और उसकी जगह पर देश की रक्षा व सुरक्षा संस्था काम करेगी। मलेशिया के रक्षा मंत्री ने इस केन्द्र को बंद करने की वजह नहीं बतायी।

सऊदी शासक मोहम्मद बिन सलमान ने पिछले साल मलेशिया के दौरे पर इस केन्द्र का उद्घाटन किया था जिसका अस्थायी दफ़्तर कुआलालंपूर में है और उसके स्थायी दफ़्तर की इमारत मलेशिया की प्रशासनिक राजधानी पुत्राजया में बन रही थी।

मलेशिया के पूर्व रक्षा मंत्री हिशामुद्दीन हुसैन ने इससे पहले कहा था कि इस सेंटर का तकफ़ीरी आतंकवादी गुट दाइश सहित सशस्त्र गुटों की ओर से हिंसक अतिवाद के फैलने से रोकने में बहुत अहम रोल था।

यह बात व्यापक स्तर पर मानी जाती है कि सऊदी शासन हालिया वर्षों में दाइश जैसे हिंसक व चमरपंथी गुट का मुख्य रूप से समर्थन करता रहा है।

मलेशिया के रक्षा मंत्री मोहम्मद साबू ने देश की संसद को यह भी बताया कि उन्होंने सऊदी अरब से मलेशियाई सैनिकों को वापस बुलाने की योजना बनायी है।

जून में मलेशिया के रक्षा मंत्री ने एलान किया था कि सऊदी अरब में मलेशिया की सेना की मौजूदगी की समीक्षा करेंगे क्योंकि यह मौजूदगी पश्चिम एशिया के संकटों के जाल में मलेशिया को अप्रत्यक्ष रूप से फॅंसाती है।

कांग्रेस के खिलाफ हूं लेकिन बीजेपी की हार देखना चाहता हूं: ओवैसी

0

ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने आगामी आम चुनावों को लेकर कहा कि 2019 में बीजेपी खत्म होने वाली है। बीजेपी क्षेत्रीय पार्टियों से मुकाबला नहीं कर सकती।

न्यूज18 इंडिया के कार्यक्रम ‘बैठक’ में असदुद्दीन ओवैसी ने कहा “हममें ये काबिलियत होनी चाहिए कि बीजेपी को 150 से कम सीट पर कैसे लाएं। मेरा मकसद बीजेपी को हराना है। मैं कांग्रेस के खिलाफ हूं, लेकिन चाहता हूं कि मोदी हार जाएं।

उन्होने कहा, मोदी यह पूरी कोशिश करेंगे कि 2019 का मुकाबला उनके और कांग्रेस प्रेसीडेंट के बीच हो जाए, लेकिन मुझे यकीन है कि ऐसा नहीं होने वाला। बीजेपी रीजनल पार्टियों को टेकल नहीं कर सकती। भारत की जनता दोनों राष्ट्रीय पार्टियों को देख चुकी है, अब वो तीसरे की तरफ देखेगी। रीजनल पार्टियों के लिए बहुत बड़ा मौका है।”

ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने आगामी आम चुनावों को लेकर कहा कि 2019 में बीजेपी खत्म होने वाली है। बीजेपी क्षेत्रीय पार्टियों से मुकाबला नहीं कर सकती।

न्यूज18 इंडिया के कार्यक्रम ‘बैठक’ में असदुद्दीन ओवैसी ने कहा “हममें ये काबिलियत होनी चाहिए कि बीजेपी को 150 से कम सीट पर कैसे लाएं। मेरा मकसद बीजेपी को हराना है। मैं कांग्रेस के खिलाफ हूं, लेकिन चाहता हूं कि मोदी हार जाएं।

उन्होने कहा, मोदी यह पूरी कोशिश करेंगे कि 2019 का मुकाबला उनके और कांग्रेस प्रेसीडेंट के बीच हो जाए, लेकिन मुझे यकीन है कि ऐसा नहीं होने वाला। बीजेपी रीजनल पार्टियों को टेकल नहीं कर सकती। भारत की जनता दोनों राष्ट्रीय पार्टियों को देख चुकी है, अब वो तीसरे की तरफ देखेगी। रीजनल पार्टियों के लिए बहुत बड़ा मौका है।”

हापुड़ लिंचिंग: स्टिंग के बाद आरोपी राकेश की तत्काल गिरफ्तारी की उठी मांग

0

उत्तर प्रदेश के हापुड़ में पिछले दिनों कथित गौरक्षा के चलते कासिम नाम के एक मुस्लिम शख्स की पीटकर हत्या का मामले में आरोपी राकेश सिसोदिया की तत्काल गिरफ्तारी की मांग उठना शुरू हो गई है। बता दें कि सिसोदिया ने एक स्टिंग में कैमरे पर अपनी जुर्म का इकबाल किया है।

मशहूर क्रिमिनल लायर और राज्यसभा सांसद केटीएस तुलसी ने एनडीटीवी से कहा, “हापुड़ माब लिन्चिंग केस के आरोपी को तुरंत गिरफ्तार करना बेहद ज़रूरी है क्योंकि वह समाज के लिए एक बड़ा खतरा है। इस मामले में आरोपी ने अपनी हत्या में भूमिका कबूली है। बयान देते समय उस पर कोई दबाव नहीं था। ये सच ही होगा।”

जबकि पूर्व कानून मंत्री कपिल सिब्बल ने एनडीटीवी से कहा, “हम लिंच मोड में हैं। कुछ लोग ये समझते हैं कि वे मानव की हत्या कर सकते हैं लेकिन गाय का व्यापार नहीं होना चाहिए।” वहीं बीजेपी सांसद विनय सहस्रबुद्दे ने एनडीटीवी से बातचीत में कहा- दोषी को कड़ी सज़ा मिलनी चाहिए।

सहस्रबुद्धे ने कहा, “इस पूरे केस की तह तक जाकर जो दोषी हैं उनको कड़ी सज़ा मिलनी चाहिए। मुझे खुशी है कि सरकार में मॉब लिन्चिंग को लेकर नए कानून पर मंत्रणा शुरू हो गई है।”

बता दें कि पीड़ित समयुद्दीन की और से इस मामले में सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की गई। जिसमे आरोपियों की ज़मानत रद्द करने तथा लिंचिंग केस का ट्रायल उत्तर प्रदेश से बाहर करवाने की मांग की गई है। सुप्रीम कोर्ट ने सुनवाई की तारीख सोमवार को तय की है।

मेरठ: पति ने सुहागरात में खींचा पत्नी का अश्लील फोटो, फेसबुक पर डालने का आरोप

0

त्तर प्रदेश के मेरठ में एक महिला ने अपने पति पर सुहागरात के दौरान अश्लील फोटो खींचने और उसे फेसबुक पर डालने का आरोप लगाया है। पीड़िता ने इस बाबत पुलिस में शिकायत भी दर्ज कराई है। बताया गया है कि युवती की शादी दो महीने पहले ही हुई थी।

बताया गया कि मेरठ के मेडिकल क्षेत्र की ही एक कॉलोनी निवासी युवक से दो महीने पहले ही हुई थी। लड़की का कहना है कि उसका पति और अन्य ससुरालवाले शादी में दिए गए सामान से खुश नहीं थे। इसलिए पति ने सुहागरात को ही उसे घर से निकालने का प्लान बनाया। उसने एक खिड़की में मोबाइल छिपाकर उसके अश्लील फोटो खींच लिए और सुबह धमकी दी कि यदि वह अपने पिता से अतिरिक्त दहेज लेकर नहीं आई तो उसे घर से निकाल दिया जाएगा।

दहेज ना मिलने पर घर से निकालने का आरोप
लड़की ने पिता से बात की तो वह भी हैरान रह गए। दहेज नहीं मिला तो नवविवाहिता को घर से निकाल दिया गया। फिलहाल विवाहिता अपने मायके में रह रही है। विवाहिता का कहना है कि डेढ़ माह तक भी जब ससुरालवालों का कोई जवाब नहीं आया तो उन्होंने परिवार परामर्श केंद्र में शिकायत की। यह शिकायत करने के एक सप्ताह बाद उसके पति ने उसके फोटो फेसबुक पर वायरल कर दिए। यही नहीं उसने गालियां भी पोस्ट कीं।

सोमवार सुबह एसपी क्राइम शिवराम यादव से युवती ने शिकायत की। युवती ने पति के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है। एसपी क्राइम ने बताया मुकदमा दर्ज करने के आदेश दे दिए हैं, आईटी ऐक्ट में कार्रवाई की जाएगी।

सऊदी अरब के अल-जाफ क्षेत्र में है रहस्यमयी गड्‌ढा, इसे न भरा जा सकता है, कुछ भी डालो तो बाहर फेंक देता है

0

सोशल मीडिया पर इन दिनों एक वीडियो वायरल हो रहा है। ये वीडियो सऊदी अरब के उत्तर में मौजूद अल-जाफ (Al-Jawf) का है जो एक रेतीला इलाका है। वीडियो में दावा किया जा रहा है कि यहां पर एक ऐसा गड्ढा है जिसे आज तक भरा नहीं जा सका है और अगर इसमें कुछ भी डाला जाता है तो अपने आप बाहर आ जाता है। गड्ढे के पास मौजूद कुछ लोगों ने इसमें बाकी चीजें भी डालने की कोशिश की लेकिन वो अपने आप ही बाहर फेंक दिया जाता है। दिलचस्प बात ये है कि इसमें मिट्टी या बाकी सामना डालने पर तकरीबन 40-50 फीट तक की ऊंचाई का फव्वारा निकलता है और पूरा सामना बाहर फेंक देता है।

क्या है इस वीडियो में?
– दरअसल, ये वीडियो सऊदी अरब के अल-जाफ क्षेत्र के पास मौजूद रेगिस्तान का है। यहां एक छोटा सा छेद है। वायरल वीडियो में कुछ लोग बुल्डोजर की मदद से इस गड्ढे को भरने की कोशिश कर रहे हैं लेकिन इसमें जो भी मिट्टी डाली गई, वो थोड़ी देर बाद खुद-ब-खुद बाहर आ गई।
– इस वीडियो को शेयर करते हुए लिखा जा रहा है ‘सऊदी अरब के उत्तर में अल-जाफ क्षेत्र में जमीन में एक छेद है जो भरा नहीं जा सकता है और अगर कुछ भी इसके अंदर फेंक दिया जाता है तो तुरंत बाहर फेंक दिया जाता है। बात यकीन न करने जैसी जरूर है, लेकिन सही है…कुदरत का करिश्मा है!!!’

– अल-जाफ सऊदी अरब के उत्तर में स्थित है, जिसकी बॉर्डर जॉर्डन देश से लगती है। ये पूरा क्षेत्र तकरीबन 1 लाख 212 वर्ग किलोमीटर में फैला हुआ है। इसके बारे में कहा जाता है कि ये जगह ज्यादातर गर्म ही रहती है और यहां पर साल भर में बहुत कम बारिश होती है।

हमारी पड़ताल में सामने आई ये सच्चाई :
– हमने इस गड्ढे की सच्चाई जानने के लिए जब पड़ताल की तो पाया कि ये वीडियो सही है। इस वीडियो को यूट्यूब पिछले साल अपलोड किया गया था। इस वीडियो की सच्चाई डेलीमेल और मिरर जैसी वेबसाइट ने भी लगाई है।
– दरअसल, ऐसा ब्लोहोल्स (Blowholes) की वजह से हो रहा है। रेतीले इलाकों में अक्सर छोटे-छोटे गड्ढों में ब्लोहोल्स बन जाते हैं और फिर उन्होंने दोबारा नहीं भरा जा सकता। ब्लोहोल्स को प्राकृतिक वैक्यूम भी कहा जा सकता है।
– ब्लोहोल्स मौसम, हवा के तापमान और दबाव पर निर्भर होते हैं। जब गड्ढे के ऊपर से गुजरने वाली हवाएं गर्म होती हैं तो उनकी डेंसिटी (घनत्व) वही होता है जो गड्ढे के अंदर मौजूद हवा का होता है। ब्लोहोल पर हवा का प्रवाह (एयरफ्लो) बंद हो जाता है।
– जब बाहर की हवा गर्म होने लगती है तो गड्ढे के अंदर मौजूद हवा तेजी से बाहर निकलने लगती है।

मारवाड़ मुस्लिम गौशाला में शिवसैनिकों का हंगामा, गौ मांस पकाने की अफवाह

0

आवारा गायों की देखबाल के लिए बनाई गई बुझावड़ स्थित मारवाड़ आदर्श मुस्लिम गोशाला में एक व्यक्ति द्वारा गोमांस पकाए जाने की अफवाह फैला कर बखेड़ा खड़ा कर दिया गया। जिसके बाद शिव सैनिकों ने जमकर हंगामा किया।हालांकि जांच में सामने आया कि मुर्गी का मांस पकाया गया था।

जानकारी के अनुसार, अचानक से शिव सैनिकों ने यहां मृत गायों को जमीन में गाड़े जाने और गौमांस पकाने का आरोप लगाते हुए हंगामा खड़ा कर दिया।सूचना मिलने पर पुलिस अधिकारी वहां पहुंचे और स्थिति को नियंत्रित किया। पुलिस ने जांच की तो मजदूर राजू ने नजदीक की मीट की दुकान से मुर्गी का मीट लाने की बात कही। पुलिस राजू को लेकर मीट की दुकान पर गई तो दुकानदार ने भी मुर्गी का मीट बेचने की पुष्टि की।

गौशाला संचालक और मारवाड़ मुस्लिम एजुकेशन सोसायटी के मोहम्मद अतीक का कहना है कि गौशाला को बदनाम करने की नीयत से कुछ लोग अफवाहें फैला रहे हैं। सोसायटी की ओर से बोरानाडा थाना और पुलिस आयुक्त को इस संबंध में शिकायत भी दी गई है।

बता दें कि जोधपुर शहर में रेलवे स्टेशन से करीब 14 किमी. की दूरी पर बुझावड़ गांव में मारवाड़ मुस्लिम एजुकेशनल एंड वेलफेयर सोसायटी द्वारा 2004 में इस गोशाला को शुरू किया गया है। मुहम्मद अतीक बताते हैं, “बिना किसी सरकारी अनुदान के सोसायटी ने गायों की सेवा के लिए पूरा ‘फण्ड’ दिया है।

गौशाला प्रभारी अब्दुल सत्तार के अनुसार, प्रतिदिन गायों को चरवाहे के साथ खुला चरने के लिए भी भेजा जाता है। इससे गायें स्वस्थ रहती हैं। इन गायों में गौशाला के प्रति इतना लगाव है कि बिना कहीं पर इधर उधर भटके हुए शाम के वक्त गौशाला लौट जाती हैं। इन गायों के नाम भी रोचक हैं, गंगा, अंजलि, शिवड़ी, कालकी, धोलकी, मिसना, मरगड़ी आदि।

गायों का नियत समय पर लौट आना, इस गौशाला के सुचारू प्रबंधन का सबूत है। आपको जानकर हैरानी होगी कि यह ऐसी गौशाला है जिसके कोई भी चारदीवारी या दरवाजा नहीं है, सभी व्यवस्थाएं खुले में आसमान के नीचे की गई हैं।

शर्मनाक: 500 रुपए में गोरखपुर भेजी जाती देवरिया शेल्टर होम से लड़कियां

0

बिहार के मुजफ्फरपुर शेल्टर होम का मामला अभी थमा नहीं था कि उत्तर प्रदेश के देवरिया जिले में भी ऐसा ही मामला सामने आया है। जिले के मां विन्ध्यवासिनी महिला प्रशिक्षण एवं सामाजिक सेवा संस्थान में बच्चियों से यौन उत्पीड़न का सनसनीखेज मामला उजागर हुआ है।

रविवार शाम शेल्टर होम से भागी 10 साल की मासूम ने महिला थाना पहुँच कर पूरे राज का पर्दाफाश किया। जिसके बाद एसओ ने तत्काल एसपी को इसकी सूचना दी। एसपी रोहन पी कनय हरकत में आए और पुलिस फोर्स भेजकर मां विन्ध्यवासिनी महिला प्रशिक्षण एवं सामाजिक सेवा संस्थान पर छापेमारी करवाई। जिसमें 42 लड़कियों में से 24 लडकियों को छुड़ाया गया और संस्था की संचालिका, उसके पति और बेटे को गिरफ्तार किया।

पीड़िता ने बताया कि शेल्टर होम के पीछे वाली गली में चार पहिया गाड़ी शाम को 4 बजे आकर रुकती थी। उसके बाद उसमें संरक्षण गृह की बड़ी दो लड़कियों को भेजा जाता था। उनके साथ छोटी बच्चियां भी भेजी जाती थी। सभी लोग सुबह 6 बजे के करीब वापस लौटते थे। सुबह उनके हाथों 500 से 1500 रुपए तक दिए जाते थे।

पीड़िता के मुताबिक, “महीने में 5-6 बार उन्हें बड़ी दीदियों के साथ गोरखपुर भेजा जाता था। जहां उनके साथ गलत काम किया जाता था. गोरखपुर में एक कमरे पर उन्हें ले जाया जाता था, जहां और भी बड़ी लड़कियां होती थीं। वहां लड़के भी होते थे। गोरखपुर ले जाने से पहले लड़कियों को सजा-धजाकर तैयार भी किया जाता था।”

इस मामले पर डीपीओ देवरिया का कहना है कि मां विन्ध्यवासिनी महिला प्रशिक्षण एवं सामाजिक सेवा संस्थान के खिलाफ अनिमियता पाई गई थी। उसके आधार पर इनकी मान्यता स्थगित कर दी गई थी। शासन से एक आदेश हुआ था कि सभी बच्चों को यहां से ट्रांसफर किया जाये, लेकिन बच्चों को जबरदस्ती अवैध तरीके से यहां रखा गया।

दाढ़ी काटने के मामले में बोले ओवैसी – हमारा गला भी काट देंगे, तब भी हम मुस्लिम ही रहेंगे

0

ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) के प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने हरियाणा के गुरुग्राम में मुस्लिम शख्स की जबरन दाढ़ी काटने के मामले में कहा कि अगर हमारा गला भी काट देंगे, तब भी हम मुस्लिम ही रहेंगे।

ओवैसी ने इस घटना के प्रतिक्रिया में सख्त अंदाज में कहा, ‘एक मुस्लिम युवक की दाढ़ी काट दी गई। जिन्होंने भी यह काम किया है, मैं उनको और उनके बापों (सरपरस्तों) को यह बता देना चाहता हूं कि अगर वो हमारा गला भी काट देंगे, तब भी हम मुस्लिम ही रहेंगे। हम उन लोगों का धर्म बदलवाकर उनको दाढ़ी रखने पर मजबूर करेंगे।’

बता दें कि नूंह जिले के बादली गांव के रहने वाले जफरुद्दीन गुरुग्राम सेक्टर-29 में ढाबा चलाते है। पिछले दिनों वो नाई की दुकान पर बाल कटवाने गए थे। दो युवक उन्हे पाकिस्तानी बताते हुए उनकी दाढ़ी पर कमेंट करने लगे और उसे दाढ़ी कटवाने के लिए कहने लगे। जब उन्होने दाढ़ी कटवाने से इनकार किया तो दोनों युवकों ने जबरदस्ती उन्हे कुर्सी पर बैठा दिया और बांध दिया। फिर जफरुद्दीन की दाढ़ी काट दी गई।

पुलिस ने इस मामले में गौरव, नितिन और अख़लाख़ को गिरफ्तार किया है। पीड़ित जफरुद्दीन ने पुलिस ने नाई अख़लाख़ को छोड़ने की अपील की है।

पुजारी ने दी राष्‍ट्रपति को बम से उड़ाने की धमकी, पुलिस ने किया गिरफ्तार

0

त्रिशूर के एक मंदिर के एक पुजारी ने राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को बम से उड़ाने की धमकी दी है। पुलिस ने आरोपी पुजारी को गिरफ्तार कर लिया है।

पुजारी ने सेंट थॉमस कॉलेज में एक बम लगाने की कथित तौर पर धमकी दी। बता दें कि राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद कल सेंट थॉमस कॉलेज में एक कार्यक्रम में शामिल होंगे।राष्ट्रपति कल कॉलेज का शताब्दी समारोह का उद्घाटन करेंगे।

त्रिशूर के जिला पुलिस प्रमुख यतीश चंद्रा ने बताया कि आरोपी जयरामन के मोबइल फोन का पता लगाकर उसे गिरफ्तार कर लिया गया। पूछताछ के दौरान उसने स्वीकार किया कि उसने नशे की हालत में फोन किया था। वह यहां के चिरकाल भगवती मंदिर का एक पुजारी है।

पूलिस ने बताया कि उसके खिलाफ आपराधिक धमकी का एक मामला दर्ज कर लिया गया है। राष्ट्रपति तीन दिवसीय यात्रा पर केरल आ रहे हैं और वह मंगलवार को राज्य की राजधानी पहुंचेंगे।

राष्ट्रपति यहां सोमवार को केरल विधानसभा के हीरक जयंती समारोह के समापन सत्र ‘लोकतंत्र के त्यौहार’ का उद्धाटन करेंगे। राष्ट्रपति के तय कार्यक्रम के अनुसार वह यहां गुरुवयूर स्थित कृष्ण मंदिर में भी जाने वाले हैं।

Hello world!

1

Welcome to WordPress. This is your first post. Edit or delete it, then start blogging!